देश

भारत में कोविड-19 की नई लहर की आशंका : नया सब-वैरिएंट फुल वैक्सीनेट और अच्छी इम्यूनिटी वाले लोगों को भी चपेट में ले सकता है.

ओमिक्रॉन के नए सब-वैरिएंट का नाम BA.5.1.7 है. ए

त्योहारों से पहले भारत में कोरोना वायरस के मामलों ने एक बार फिर तेजी पकड़ ली है. कोविड के बढ़ रहे मामलों को थामने के लिए महाराष्ट्र, केरल जैसे राज्यों ने एडवाइजरी भी जारी कर दी है. वहीं देश की राजधानी दिल्ली में भी पिछले कुछ दिनों के अंदर कोरोना के मामलों में उछाल देखने को मिला है. राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में शुक्रवार 16 अक्टूबर को 1.59 पॉजिटिविटी रेट के साथ 115 कोरोना के मामले सामने आए थे और शनिवार को 2.12 पॉजिटिविटी रेट के साथ 135 नए कोरोना के मामले सामने आए थे. वर्तमान में दिल्ली में अभी 429 कोविड केस एक्टिव हैं, जिनमें 329 मरीज होम आइसोलेशन में हैं.

भारत में BF.7 सब-वैरिएंट के पहले मामले के बारे में गुजरात बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर ने पता लगाया. चीन में कोरोना के मामले बढ़ने का कारण यही वैरिएंट है. चीन में कोविड -19 मामलों में आई तेजी का कारण BF.7 और BA.5.1.7 वैरिएंट ही बताया गया था.

सबसे बड़ा त्योहार दिवाली आ ही गया है और मार्केट में चारों तरफ भीड़-भाड़ का माहौल है. दूसरी तरफ, सर्दी के मौसम की वजह से भी वायरस और तेजी से फैल सकता है. ऐसे में विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि किसी को भी मास्क लगाना नहीं छोड़ना चाहिए. इसके साथ ही लक्षण नजर आने पर तुरंत खुद को अलग कर लेना चाहिए.

राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार ग्रुप वैक्सीनेशन (NTAGI) के चेयरमैन डॉ. एन.के.अरोड़ा (Dr N.K. Arora) के मुताबिक, इस वैरिएंट के लक्षण भी अन्य कोविड-19 वैरिएंट की तरह ही नजर आएंगे लेकिन अगर इस नए वैरिएंट की बात करें तो बदन दर्द इसका मुख्य लक्षण है. अगर किसी को लंबे समय से शरीर में दर्द हो रहा है तो उसे कोविड टेस्ट कराने की जरूरत होगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button