उत्तराखंड

जिलाधिकारी सोनिका ने दिसंबर में होने वाले ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट की तैयारियों का लिया जायजा

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारी को लेकर लगातार प्रशासन की ओर से युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है

राजधानी में 8 और 9 दिसंबर को ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट होने वाला है, जिसको लेकर तैयारियां जारी हैं. इसी क्रम में जिलाधिकारी सोनिका कार्यक्रम स्थल एफआरआई पहुंची और ग्लोबल इन्वेस्टर समिट की तैयारियों का निरीक्षण किया और कार्य प्रगति का जायजा लिया. साथ ही उन्होंने अधिकारियों को समय से काम पूरा करने और इंवेस्टर्स समिट में प्रतिभाग करने वाले इंडस्ट्रियल और वीआईपी रूटों को सुगम बनाने के निर्देश दिए.

देहरादून में निवेशक सम्मेलन के दौरान करीब 400 उद्योगपति रहेंगे. उनके ठहरने का इंतजाम नामी होटलों में किया गया है. अतिथियों और उद्योगपतियों के लिए होटल में हेल्प डेस्क बनाई गई है. सभी अधिकारियों को उनके अतिथियों की सूची उपलब्ध कराई जा रही है. साथ ही निवेशक सम्मेलन में आने वाले उद्योगपतियों की मेहमान नवाजी में कोई कसर न रहे, इसके लिए प्रमुख उद्योगपति के समूह के साथ आईएएस और पीसीएस अधिकारियों को लायजन अधिकारी के रूप में तैनात किया जा रहा है.

उत्तराखंड में निवेशक ज्यादा से ज्यादा संख्या में आएं, इसके लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूरी ताकत लगा रखी है. प्रत्येक जनपद अपने क्षेत्र में अधिकतम निवेश के प्रयास कर रहा है. इसी क्रम में अब तक देहरादून में 15000 करोड़ रुपए के निवेश के लिए एमओयू साइन हुए हैं, जबकि हरिद्वार में 21000 करोड़ रुपए के निवेश के लिए एमओयू साइन हुए हैं. एयरपोर्ट से लेकर होटल और आयोजन स्थल तक मेहमानों को लाने और ले जाने के लिए चुनिंदा अफसरों को लगाया गया है. प्रशासन ने खास अफसर का पैनल बनाया है, जो विशेष मेहमानों के साथ 24 घंटे रहेंगे.

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारी को लेकर लगातार प्रशासन की ओर से युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है. पीडब्ल्यूडी भी तैयारियों में जुटा हुआ है. इन्वेस्टर्स समिट को लेकर लगभग 2 महीने पहले से तैयारी चल रही थी. जिसमें प्रशासन की ओर से 7 रुट चिन्हित किए गए थे, जोकि इन्वेस्टर्स समिट के वेन्यू एफआरआई तक पहुंचाने के लिए थे. इन सभी रूटों में चकराता रोड को छोड़कर लगभग सभी रूटों पर पीडब्ल्यूडी की ओर से कार्य पूरा कर लिया गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button