उत्तराखंड

जिलाधिकारी बागेश्वर नें लगाया जनता दरबार

जनता दरबार लगाने का उद्देश्य जनता की छोटी-छोटी समस्याओं का मौके पर व कम समय में निस्तारित करना है

बागेश्वर | सोमवार को जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में लगाये गये जनता दरबार में 32 शिकायतें प्राप्त हुर्इ, जिसमें से 08 शिकायतों का मौके पर ही समाधान किया गया, शेष शिकायतों का अधिकारियों को समयावधि में निस्तारित करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा जनता दरबार लगाने का उद्देश्य जनता की छोटी-छोटी समस्याओं का मौके पर व कम समय में निस्तारित करना है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये क्षेत्र भ्रमण दौरान भी अधिकारी जनता के बीच जाकर उनकी समस्यायें सुने व उनका निस्तारण करें।

जनता दरबार में प्रकाश सिंह व हरी सिंह ने लोक निर्माण विभाग द्वारा उड़लगॉव सड़क सर्वे पर आपत्ति दर्ज करते हुए कहा कि जनता को विश्वास में लिये बिना सड़क सर्वे का आरोप लगाते हुए अत्यधिक निजी भूमि कटने की शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने लोनिवि अभियन्ता को दुबारा सड़क सर्वे कराने के निर्देश दिये। सुराग गॉववासियों ने पीएमजीएसवार्इ द्वारा सड़क निर्माण से पैदल रास्ते व पेयजल ध्वस्त लार्इनों की ठीक कराने के साथ ही सड़क से मलुवा हटाने व टूटी दीवारों को ठीक कराने की मॉग की साथ ही वेबकास द्वारा पुल निर्माण कराने का अनुरोध किया। चन्द्र प्रकाश द्वारा काण्डाधार में उनकी भूमि पर जल संस्थान द्वारा निर्मित चैम्बर से पानी रिसाव होने के कारण हो रहे भू-कटाव की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 जलसंस्थान को भूकटाव रोकने हेतु तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इसी तरह रवार्इस्टेट निवासी गोपाल सिंह ने राशन कार्ड न बनने के शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने तुरंत राशनकार्ड बनाने के निर्देश जिला पूर्ति अधिकारी को दिये। विनोद जोशी ने लघु सिंचार्इ पंप चलाने के उपरांत भी 2020 से अभी तक मानदेय न दिये जाने की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 लघु सिंचार्इ को 01 सप्ताह के अन्दर मानदेय भुगतान कर अवगत कराने के निर्देश दिये। हयात सिंह व गॉववासियों ने स्वीकृत सयाता-पयारा मोटर मार्ग की प्रगति जाननी चाही जिस पर सहायक अभियंता लोनिवि द्वारा अवगत कराया गया कि मोटरमार्ग का क्षतिपूर्वक भूमि हस्तांतरण वन विभाग को हो चुका है, वन अधिनियम प्रस्ताव बनाया जा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने अभियंता को वन हस्तांतरण प्रस्ताव शीघ्र बनाकर ऑनलार्इन करने के निर्देश दिये साथ ही प्रभागीय वनाधिकारी को फास्ट ट्रेक पर कार्य कराने के निर्देश भी दिये। कमला देवी, सुनीता देवी, गोदावरी देवी ने प्रधानमंत्री आवास दिलाने का अनुरोध किया जिस पर जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को सूची में नाम दर्ज कराने के निर्देश दिये। ग्राम प्रधान वलना ने रा0प्रा0वि0 फल्याटी, फल्याटी धार, दोगडा, में पुरानी पेयजल लार्इनों में पानी न आने की शिकायत करते हुए पेयजल सुचारू कराने का अनुरोध किया जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 जलसंस्थान को विद्यालयों में पेयजल व्यवस्था कराने के निर्देश दिये। गोकुल परिहार ने बालीघाट-पन्द्रहपाली की सड़क की हालत खराब होने की बात कहते हुए सड़क की टूटी दीवारों व गढडों का मरम्मत कराने को कहा।
जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 पीएमजीएसवार्इ को लीती-गोगिना मार्ग की तुरंत मरम्मत कराने के निर्देश दिये, साथ ही श्रम अधिकारी को जनपद में मार्इन्स में काम कर रहे श्रमिकों का डाटा 07 दिनों में उपलब्ध कराने के साथ ही जिला कार्यक्रम अधिकारी एवं बाल विकास को मार्इन्स श्रमिकों के बच्चों को आगनबाड़ी केन्द्रों में पंजीकृत करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने शामा-लीती क्षेत्रवासियों को आजीविका से जोड़ने हेतु कृषि, उद्यान, मत्स्य, पर्यटन व पशुपालन को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये।
जनता दरबार जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 डीपी जोशी, उप जिलाधिकारी हरगिरी, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, महाप्रबंद्यक उद्योग जीपी दुर्गापाल, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 आर चन्द्रा, जिला पर्यटन अधिकारी कीर्ति आर्या, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, अधि0अभि0 जल निगम वीके रवि, पीएमजीएसवार्इ विजय कृष्ण, सिंचार्इ योगेश काण्डपाल, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत राजेश कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट समेत अनेक अधिकारी आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button