उत्तराखंड

जिलाधिकारी नवनीत पांडेय की अध्यक्षता में *जिला गंगा समिति* की बैठक हुई संपन्न

जनपद में पहली बार जनपद के अलग अलग चार स्थानों में भव्यता से गंगा आरती का आयोजन किया जाएगा

चम्पावत 13 अक्टूबर 2023 : जिलाधिकारी नवनीत पांडेय की अध्यक्षता में *जिला गंगा समिति* की बैठक जिलाधिकारी कक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा जिला गंगा समिति के संबंधित अधिकारियों से चर्चा करते हुए वर्तमान में समिति द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी लेने के साथ ही जनपद अंतर्गत विभिन्न स्थानों पर नदियों में दूषित जल, अपशिष्ट कचरा तथा अन्य गंदगी से प्रभावित होने वाली नदियों के आसपास गंदगी पर रोक लगाते हुए स्वच्छता बनाये रखने के निर्देश जिला गंगा समिति के सदस्य सचिव प्रभागीय वनधिकारी को दिए। बैठक के दौरान उप प्रभागीय वनाधिकारी ने अवगत कराया कि जिला गंगा समिति द्वारा जनपद की नदियों के पुनरुद्धार, संरक्षण के अतिरिक्त नदियों के आसपास पौधारोपण किया गया है और लगातार किया जा रहा है। इसके अलावा अर्थगंगा अभियान के तहत देश के लोगों को अर्थशास्त्र की मदद से नदियों से जोड़ना इसका मुख्य उद्देश है। जिसमे सीवेज ट्रीटमेंट, नदी-सतह की सफाई, जैव विविधता को बढ़ाना, वनीकरण और जन जागरूकता जैसे कार्य किये जाते हैं। साथ ही उप प्रभागीय वनाधिकारी ने अवगत कराया की गंगा आरती की तर्ज पर ही जनपद के घाटों में भी गंगा आरती हेतु परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में ‘अर्थ गंगा अभियान’ (नदी से संबंधित आर्थिक गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करके, गंगा और उसके आसपास के क्षेत्रों के सतत विकास पर केंद्रित है) के तहत 5 लोगों को आरती के प्रशिक्षण दिया जन हैं। जिसके लिए जनपद से 5 लोगो को चयनित कर परमार्थ निकेतन भेजा जाएगा। इस पर जिलाधिकारी द्वारा माँ पूर्णागिरि मंदिर समिति के अध्यक्ष को शीघ्र ही आरती के प्रशिक्षण हेतु 5 व्यक्तियों के नाम प्रस्तावित कर जिला गंगा समिति को भेजने हेतु कहा गया। इसके अलावा उप प्रभागीय वनाधिकारी ने बैठक में अवगत कराया कि आगामी 4 नवंबर को गंगा उत्सव मनाया जाना है। जिसमे माँ गंगा आरती की ही तर्ज पर विभिन्न जनपदों में वहाँ की नदियों की आरती की जाएगी। जनपद चम्पावत के शरदा घाट में भी गंगा आरगी का आयोजन किया जाएगा। इस पर *जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी 4 नवंबर को जनपद के अलग अलग चार स्थानों में शारदा घाट टनकपुर, बूम घाट टनकपुर, ऋषेश्वर मंदिर लोहाघट, डिप्टेश्वर मंदिर चम्पावत में भव्य आरती का आयोजन किया जाएगा*। इस हेतु *उन्होंने समिति के सदस्य सचिव को जिला पंचायत, सम्बंधित उप जिलाधिकारियों, माँ पूर्णागिरी मंदिर समिति व नगरपालिका से समन्वय स्थापित करते हुए इस कार्यक्रम का वृहद रूप से प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए* उन्होंने कहा कि *जनपद में पहली बार जनपद के अलग अलग चार स्थानों में भव्यता से गंगा आरती का आयोजन किया जाएगा।* बैठक में उप प्रभागीय वनाधिकारी नेहा चौधरी, ईई पेयजल निगम विजय कुमार पाल, मुख्य कृषि अधिकारी गोपाल सिंह भण्डारी सहित अन्य उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button