उत्तराखंड

चार धाम यात्रा में रील बनाने वालों पर पुलिस ने दिखाई सख्ती, 170 लोगों के मोबाइल किए जब्त

यात्रा शुरू होते ही चारों धामों में बड़ी संख्या में पर्यटक उमड़ पड़े, जिसके कारण अव्यवस्तता का माहौल बन गया

 उत्तराखंड :  10 मई को केदारनाथ, यमुनोत्री व गंगोत्री जबकि 12 मई को बदरीनाथ धाम के कपाट खुले थे। यात्रा शुरू होते ही चारों धामों में बड़ी संख्या में पर्यटक उमड़ पड़े, जिसके कारण अव्यवस्तता का माहौल बन गया।पुलिस विभाग की ओर से धामों में रील बनाकर माहौल खराब करने वाले 170 व्यक्तियों के मोबाइल जब्त किए गए।

ऐसे में सरकार की ओर से सख्ती दिखाते हुए मंदिर परिसर की 50 मीटर परिधि में रील बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन अब भी लोग आदेश का उल्लंघन कर रहे हैं। इसके अलावा पुलिस की ओर से कुछ ऐसे ब्लागर व रील बनाने वाले चिह्नित किए हैं, जिनकी ओर से भ्रामक खबरें चलाई जा रही हैं, पुलिस इन पर मुकदमा दर्ज कर सकती है।वहीं पुलिस की ओर से आपरेशन मर्यादा के तहत 66 व्यक्तियों पर कार्रवाई की गई है। इनमें से कुछ व्यक्ति वह हैं, जोकि रास्ते में हुक्का पी रहे थे व नशा कर रहे थे। धार्मिक स्थलों पर नशा करना पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है। जो व्यक्ति धार्मिक स्थलों पर नशा करते हैं, उनके खिलाफ पुलिस विभाग की ओर से चलाए गए आपरेशन मर्यादा के तहत कोटपा के तहत कार्रवाई की जा रही है।चारों धामों में ड्यूटी प्वाइंट पर तैनात पुलिसकर्मियों को धामों में रील व वीडियो बनाने वालों पर नजर रखने और जो लोग रील व वीडियो बना रहे हैं, उनके मोबाइल जब्त करने के निर्देश जारी किए गए हैं। अब भी कई ऐसे लोग हैं, जोकि मान नहीं रहे हैं। उनके मोबाइल जब्त किए जा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button