उत्तराखंड

चार धाम यात्रा में चलने वाले सभी वाहन चालकों के लिए राही नेत्रधाम ने शुरू किया निशुल्क नेत्र जांच शिविर

अब उत्तराखंड के लोगों को अपने आंख से संबंधित समस्याओं के लिए किसी अन्य राज्य का रुख नहीं करना पड़ेगा

देहरादून- 10 मई 2024- विश्वस्तरीय आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर एवं तकनीक के साथ राही नेत्रधाम अब देहरादून में अपनी पहली मल्टी स्पेशलिटी आई हॉस्पिटल का शुभारंभ कर दिया है। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारत सरकार के पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने देहरादून के रिस्पना पूल स्थिति हरिद्वार रोड पर राही नेत्रधाम का उद्घाटन अपने भेजे गए संदेश के माध्यम से किया। उन्होंने अपने संदेश में कहा” मुझे यह जानकर अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि नंदा देवी हेल्थ केयर की एक सुपर स्पेशलिटी इकाई के रूप में देहरादून में राही नेत्रधाम का शुभारंभ किया जा रहा है।

“आंखें प्रकृति एवं ईश्वर द्वारा प्रदत्त एक अनमोल उपहार होती है जिससे कि हम सारी दुनिया की खूबसूरती और अच्छी तथा बुरी चीज देख सकते हैं, बिना आंखों के हम उस सुंदर प्रकृति और दुनिया की कल्पना नहीं कर सकते। इसलिए आंखों के सुरक्षा और बचाव भी अत्यंत महत्वपूर्ण हो जाता है।”

मुझे पूर्ण विश्वास है कि राही नेत्रधाम मानव जीवन रोशन करने की दिशा में देहरादून की जनता को किफायती नेत्र देखभाल और इलाज सुलभ कराने की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य करेगा।

कार्यक्रम में मौजूद मुख्य अतिथि रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ ने रिबन कटिंग शिरोमणि के साथ विधिवत शुभारंभ किया एवं उनके साथ श्री काशीनाथ जीना हिमालयन विश्वविद्यालय के कुलपति, डॉ हर्ष भट्टाचार्य, श्री शंकरदेव नेत्रालय के अध्यक्ष, श्री राधेश्याम गर्ग, श्री ओके फाउंडेशन के अध्यक्ष मौजूद रहे।

डॉ मोहित गर्ग, डॉ ईशा अग्रवाल एवं डॉ चिंतन देसाई के संघर्ष एवं दूर दृष्टि की सोच ने उत्तराखंड के सुदूर गांवों एवं पहाड़ों में रहने वाले लोगों के लिए विश्व स्तरीय आई केयर सेंटर का शुभारंभ किया है।  समारोह में डॉक्टर डॉ चिंतन देसाई ने अपने संबोधन में कहा आज हमारा एक सोचा हुआ सपना सच हो गया, जब राही नेत्रधाम आज से उत्तराखंड के लोगों के लिए शुरू कर दिया गया है। हमारे बरसों के कठिन मेहनत एवं संघर्ष के बाद आज वह दिन आ गया है जब हम अपने उत्तराखंड के देहरादून में एक विश्व स्तरीय आई केयर सेंटर का शुभारंभ कर दिया है। अब उत्तराखंड के लोगों को अपने आंख से संबंधित समस्याओं के लिए किसी अन्य राज्य का रुख नहीं करना पड़ेगा।

वही उद्घाटन समारोह में डॉक्टर मोहित गर्ग मीडिया से बात करते हुए कहा ” हमारा सपना एक ऐसा भविष्य है जहां उत्तराखंड और उसके बाहर हर व्यक्ति को उच्चतम नेत्र चिकित्सा तक समान पहुंच प्राप्त हो, जिससे उन्हें निवारणीय दृष्टि दोष या अंधेपन के बोझ के बिना पूर्ण जीवन जीने के लिए सशक्त बनाया जा सके।”

उन्होंने कहा ” आज से चार धाम यात्रा का शुभारंभ हो चुका है और हमारा राही नेत्रधाम चार धाम यात्रा में चलने वाले सभी वाहन चालकों के लिए निशुल्क नेत्र जांच शिविर आज से शुरू कर रहा है एवं यह शिविर पूरे चार धाम यात्रा के दौरान चलता रहेगा। यह आई हॉस्पिटल देहरादून के रिस्पना पूल के काफी नजदीक है और यहां से पहाड़ के लिए 24 घंटे गाड़ियां चलती रहती है। मैं उन सभी ड्राइवर भाइयों से निवेदन करूंगा कि वे सब राही नेत्रधाम पहुंच कर अपने आंखों का चेकअप करवाले एवं दवाइयां अपने साथ ले जाएं, यह सेवाएं चार धाम यात्रा में चलने वाले ड्राइवरों के लिए निशुल्क दी जा रही है।

उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए डॉ ईशा अग्रवाल बताती है कि हमारे पहाड़ की महिलाओं को आंखों की बहुत समस्याएं होती है परंतु समय पर उचित इलाज एवं सुविधाएं न मिलने की वजह से वे जीवन भर आंखों के कष्ट को झेलते हुए बिता देता है। हम दूर दराज के गांव एवं पहाड़ की महिलाओं को सशक्त करने के लिए अपने इस राही नेत्रधाम में प्रशिक्षण शिविर भी चलाने जा रहे हैं जिसमें पहाड़ की महिलाएं एवं पुरुषों को यहां प्रशिक्षित कर आत्मनिर्भर बनाया जाएगा एवं उन्हें नेत्र देखभाल के विभिन्न विषयों में प्रशिक्षण देकर पहाड़ के महिलाओं एवं युवाओं को उनके क्षेत्र में रोजगार की संभावनाओं को बढ़ाया जाएगा।

 

डॉ चिंतन देसाई, डॉ मोहित गर्ग एवं डॉ ईशा अग्रवाल के बारे में…

डॉ. चिंतन देसाई एक प्रसिद्ध विट्रोरेटिनल सर्जन हैं, जिन्हें अभिनव शल्य चिकित्सा तकनीकों का बहुत शौक है। शंकर नेत्रालय, चेन्नई और शंकरदेव नेत्रालय, गुवाहाटी जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त करने का अवसर मिलने के कारण, गुणवत्ता, सटीकता और ईमानदारी उनके मुख्य मूल्य हैं। अपने शिक्षण विधियों के लिए अपने छात्रों और सहकर्मियों के बीच अत्यधिक सम्मानित, उन्हें अनुसंधान और शिक्षा में भी गहरी रुचि है, जिसके लिए उन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।

डॉ. मोहित गर्ग, एमबीबीएस, डीएनबी, एफवीआरएस, एमएनएएमएस, मोतियाबिंद और विट्रोरेटिनल सर्जरी में विशेषज्ञता रखने वाले एक उच्च कुशल नेत्र रोग विशेषज्ञ हैं। यूसीएमएस और जीटीबी अस्पताल, श्री शंकरदेव नेत्रालय और विवेकानंद नेत्रालय जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों से व्यापक अनुभव के साथ, उन्होंने ऐन्टिरीअर और पोस्टीरियर दोनों खंडों की सर्जरी में अपनी विशेषज्ञता को बढ़ाया है। वे अनुसंधान और प्रशिक्षण के माध्यम से नेत्र विज्ञान के क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित हैं। उन्होंने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दोनों पत्रिकाओं में शोध लेख लिखे हैंl

डॉ. ईशा अग्रवाल, MBBS, DNB, MNAMS, FICO, FAICO, एक कुशल नेत्र रोग विशेषज्ञ हैं, जो उन्नत मोतियाबिंद, ऑकुलोप्लास्टिक्स और कॉस्मेटिक सर्जरी में विशेषज्ञता रखती हैं। श्री शंकरदेव नेत्रालय, UCLA और सिंगापुर नेशनल आई सेंटर जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों से व्यापक प्रशिक्षण के साथ, वह शल्य चिकित्सा तकनीकों और अनुसंधान में उत्कृष्ट हैं। अपनी शैक्षणिक उत्कृष्टता और क्षेत्र में योगदान के लिए पहचानी जाने वाली डॉ. अग्रवाल सक्रिय रूप से प्रशिक्षण और शिक्षा में संलग्न रहते हुए अपने रोगियों को असाधारण देखभाल प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button