उत्तराखंड

उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारी मंच के प्रदेश महासचिव व जिला अध्यक्ष ने उत्तराखण्ड स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर मुख्यमंत्री सीएम धामी से की मांग

एक तरफ हम भारत देश दुनिया में चाँद पर उतरकर खुशी मना रहा हैं और वहीं दूसरी ओर उत्तराखण्ड स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर गिड़गिड़ा रहा हैं

दिनांक 23 अगस्त 2013  :  उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारी मंच के प्रदेश महासचिव रामलाल खंडूड़ी एवं प्रदेश प्रवक्ता व जिला अध्यक्ष प्रदीप कुकरेती ने माननीय मुख्यमंत्री से मांग की हैं प्रदेश की अस्थाई राजधानी देहरादून में डेंगू का कहर जारी हैं और प्राइवेट हस्पतालों तक में बेड की समस्यां बनी हुई हैं परन्तु ना हमारें स्वास्थ्य मंत्री मैदान में हैं ना हमारें स्वास्थ्य महानिदेशक व मुख्य चिकित्साधिकारी किसी हस्पताल में निरीक्षण करतें नजर आ रहें हैं और ना ही व्यवस्थाओं की सुध लेते नजर आ रहें हैं।
प्रदीप कुकरेती ने कहा कि अब मुख्यमंत्री स्वयं संज्ञान लें और कुछ अच्छे अधिकारियों की टीम गठित करें साथ ही जिला हस्पताल में शीघ्र ब्लड बेंक स्थापित करें और गांधी शताब्दी में डेंगू वार्ड स्थापित किया जाय जिससे सामान्य व्यक्ति प्राइवेट हस्पतालों में जेब कटने से भी बच सके क्योंकि देखने में आ रहा हैं कि कुछ प्राइवेट हस्पताल प्रत्येक मरीज को सीधे ICU में भर्ती कर भारी फीस वसूल रहें हैं।
आज भी 23 वर्षों बाद भी हमारें जिला हस्पताल में प्लेटलेट्स अलग करने हेतु उपकरण उपलब्द्ध नहीं हैं लें देकर एक दून मेडिकल कालेज क़े ब्लड बेंक में एक मशीन हैं वह भी केवल सुबह 9 बजे से सांय 7 तक ही कार्य करती हैं जबकि तीमारदार पूरी रात घबराकर इधर उधर चक्कर काटने को मजबूर हैं।
एक तरफ हम भारत देश दुनिया में चाँद पर उतरकर खुशी मना रहा हैं और वहीं दूसरी ओर उत्तराखण्ड स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर गिड़गिड़ा रहा हैं।
समाचार पत्रों में मात्र सरकारी आंकड़े बताए जा रहें हैं जबकि अस्पताल भरे पड़े हैं और पेथोलाजी लेब में जांच जांच का खेल जारी हैं।
राज्य आंदोलनकारी मंच शीघ्र जिलाधिकारी क़े माध्यम से ज्ञापन सौंपकर शहर में फॉगिंग और ब्लीचिंग छिड़काव क़े साथ स्टाफ की कमी दूर करने क़े साथ ही औचक निरीक्षण की मांग करेगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button