देश

आतंकवाद हम सभी को अस्वीकार्य है ,आम नागरिकों की मौत कहीं भी हो, निंदनीय है : पीएम मोदी

मुझे खुशी है कि हाल ही में भारत में नए संसद मे महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण का फैसला लिया गया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने G20 बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि इजराइल-हमास की लड़ाई किसी तरह का क्षेत्रीय रूप धारण न करे. उन्‍होंने कहा कि पश्चिम एशिया में असुरक्षा और अस्थिरता की स्थिति हम सब के लिए चिंता का विषय है.आज हमारा एक साथ आना इस बात का प्रतीक है कि हम सभी मुद्दों के प्रति संवेदनशील हैं और इनके समाधान के लिए एक साथ खड़े हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद हम सभी को अस्वीकार्य है. आम नागरिकों की मौत कहीं भी हो, निंदनीय है. बंधकों की रिहाई के समाचार का हम स्वागत करते हैं. उम्मीद करते हैं कि सभी बंधक रिहा हो जाएंगे. यह सुनिश्चित करना भी ज़रूरी की इजराइल-हमास की लड़ाई किसी तरह का क्षेत्रीय रूप धारण न करे. पीएम मोदी ने कहा कि महिला सशक्तिकरण में एक नया वर्किंग ग्रुप बनाया गया है. मुझे खुशी है कि हाल ही में भारत में नए संसद मे महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण का फैसला लिया गया.पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत में कहा कि मेरा निमंत्रण स्वीकार कर जुड़ने के लिए 140करोड़ भारतीयों की तरफ से आप सबका हार्दिक स्वागत है. उन्‍होंने ONE EARTH ONE FAMILY का परिचय दिया. उन्‍होंने कहा कि वो पल भूलाया नहीं जा सकता जब अफ्रिकन यूनियन का हमने स्वागत किया और हमें गर्व है कि भारत की अध्यक्षता में अफ्रीका को G20 में आवाज मिली, भारत की अध्यक्षता में जी20 को PEOPLES 20 की पहचान मिली. पीएम मोदी ने कहा कि DEEPFAKE कितना खतरनाक है; हमें इसकी गंभीरता को समझते हुए आगे बढ़ना होगा. साथ ही AI का सही इस्तेमाल करना होगा.

शामिल हैं. जिनमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूके, अमेरिका और यूरोपीय संघ शामिल हैं. G20 सदस्य वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 85 फीसदी, वैश्विक व्यापार का 75 फीसदी से अधिक और विश्व जनसंख्या का लगभग दो-तिहाई प्रतिनिधित्व करते हैं.पीएम मोदी ने इस महीने भारत की अध्यक्षता के समापन से पहले दिल्ली घोषणा के कार्यान्वयन पर विचार-विमर्श करने के लिए जी- 20 नेताओं के एक वर्चुअल शिखर सम्मेलन की मेजबानी की. गौरतलब है कि 10 सितंबर को नई दिल्ली शिखर सम्मेलन के समापन सत्र के दौरान पीएम मोदी ने घोषणा की थी कि भारत एक वर्चुअल शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा. बैठक में अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष सहित जी20 देशों के नेताओं के साथ-साथ नौ अतिथि देशों और 11 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों को आमंत्रित किया गया है. भारत के पास 30 नवंबर तक G20 की अध्यक्षता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button