उत्तराखंड

उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों के साथ ही मैदानों में भी मौसम का मिजाज बदलने के आसार

मौसम विभाग के अनुसार वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण उत्तर भारत के हिमालयी इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी होने का अनुमान

देहरादून | उत्तराखंड में अगले 24 घंटे में पर्वतीय इलाकों के साथ ही मैदानों में मौसम का मिजाज बदलने के आसार हैं| दिल्ली की वायु गुणवत्ता रविवार को सुधरकर ‘खराब’ श्रेणी में पहुंच गयी, जो एक दिन पहले ‘बहुत खराब’ श्रेणी में थी|

मौसम वैज्ञानिकों ने उत्तरकाशी, चमोली ,बागेश्वर, पिथौरागढ़ और रुद्रप्रयाग के ऊंचाई वाले इलाकों में कहीं-कहीं हल्की बारिश के साथ ही बर्फबारी की संभावना व्यक्त की है| 3500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बारिश के साथ ही बर्फबारी के आसार हैं. बर्फबारी के बाद मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने की संभावना है| उत्तर भारत में भी मौसम बदल रहा है. मौसम विभाग का कहना है कि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण उत्तर भारत के हिमालयी इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी होने का अनुमान हैं| कई पहाड़ी इलाकों में काफी पहले से ही बर्फबारी शुरू हो गयी है|

आपदा प्रबंधन निदेशालय ने 15-16 नवंबर को अंडमान निकोबार द्वीप समूह में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है| राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), भारतीय तटरक्षक (आईसीजी), नौसेना की सभी इकाइयों को हाई अलर्ट पर रखा गया है| विभाग ने कहा कि अगले पांच दिनों के लिए अलर्ट जारी किया गया है, लेकिन 15 और 16 नवंबर को पोर्ट ब्लेयर, कैंपबेल बे, कमोर्टा और डिगलीपुर सहित द्वीप समूह के कुछ हिस्सों में बारिश का अनुमान है|

स्काईमेट वेदर की मानें तो, सोमवार को रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, केरल, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है| कहीं कहीं भारी बारिश के भी आसार नजर आ रहे हैं|

14 नवंबर को जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और लद्दाख क्षेत्र में कुछ स्थानों पर बर्फ के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इसके अलावा उत्तर पश्चिम, मध्य और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में दिन और रात के तापमान में और गिरावट आ सकती है|

बिहार का मौसम भी बहुत तेजी से बदल रहा है| प्रदेश में रात के वक्त ठंड का एहसास होने लगा है| मौसम विभाग की मानें तो राज्य में पछुआ और उत्तरी-पछुआ 8 से 10 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से बह रही है| इसकी वजह से प्रदेश में औसतन दो से चार डिग्री सेल्सियस तक तापमान में गिरावट दर्ज की गयी है| विशेषकर आगामी पांच दिन तक उत्तर-पश्चिम बिहार मसलन चंपारण, सीवान, गोपालगंज इत्यादि जिलों में न्यूनतम तापमान के और नीचे आने के आसार हैं|

उत्तर प्रदेश में ठंड की शुरूआत हो चुकी है. मौसम विभाग की मानें तो अगले दो दिनों में सूबे में ठंड और ज्यादा बढ़ सकती है| कई इलाकों में तापमान 16 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंचने के आसार हैं| मौसम विभाग ने आशंका व्यक्त की है कि आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश में हल्की बारिश भी देखने को मिल सकती है|

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button