देश

होमवर्क पूरा ना होने पर टीचरों ने छात्र की जमकर पिटाई की , छात्र की बिगड़ी तबीयत , 4 दिन बाद मौत

टीचरों की बेरहम पिटाई, धूप और उमस के कारण कृष्णा की तबीयत बिगड़ गई

ग्वालियर 17 जुलाई 2023 :  मध्य प्रदेश के ​​​​ग्वालियर जिले में होमवर्क न करने को लेकर टीचर ने छात्र को जमकर पीटा. पिटाई के बाद छात्र दहशत में आ गया. उसकी तबीयत बिगड़ गई. वह 4 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहा. 16 जुलाई को उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. इग घटना के बाद हंगामा मच गया. परिजनों ने स्कूल का घेराव किया. उन्होंने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. उसकी समझाइश के बाद परिजनों ने हंगामा बंद किया. उसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. पुलिस ने स्कूल प्रबंधन से पूछताछ करने के बाद आरोपी दो टीचर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. गौरतलब है कि, बहोड़ापुर इलाके में रहने वाले कोक सिंह चौहान शहर की एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं. उनके घर में पत्नी और तीन बच्चे थे. बच्चों में सबसे बड़ी बेटी है. उसके बाद 14 साल का बड़ा बेटा योगेश और छोटा बेटा 12 साल का कृष्णा था. कोक सिंह के दोनों बच्चे शब्द प्रताप आश्रम इलाके में स्थित फोर्ट व्यू स्कूल में पढ़ाई करते हैं. 12 जुलाई को जब योगेश के साथ कृष्णा घर लौटा तो वो उल्टी करता हुआ आया. उसकी तबीयत भी खराब थी. थोड़ी ही देर में तबीयत इतनी बिगड़ी के कृष्णा के एक हाथ और पैर ने भी काम करना बंद कर दिया. इस पर बड़े बेटे योगेश ने मां को बताया कि होमवर्क न करने पर कृष्णा को उसके टीचरों ने पीटा है. पिता कोक सिंह ने बताया कि उन्होंने स्कूल प्रबंधन को इसकी जानकारी दी. स्कूल वालों ने कृष्णा को निजी अस्पताल में ले जाने को कहा. साथ ही, यह भरोसा दिलाया कि उनके बच्चे के इलाज का खर्च स्कूल प्रबन्धन उठाएगा. निजी अस्पताल में भर्ती होने के बाद कृष्णा की तबीयत में सुधार नहीं हुआ. उसकी तबीयत और बिगड़ती चली गई. इधर स्कूल प्रबंधन ने फोन ही नही उठाया तो परिजन कृष्णा को जयारोग्य अस्पताल लेकर पहुंचे. जयरोग्य के ट्रॉमा सेंटर में कृष्णा ने बेहोशी की हालत में दम तोड़ दिया.योगेश ने बताया कि वह और उसका छोटा भाई कृष्णा 12 जुलाई को स्कूल पहुंचे थे. यहां स्कूल के शिक्षक सोनू श्रीवास्तव और अकबर खान ने होमवर्क पूरा न होने पर कृष्णा को जमकर पीटा. टीचर सोनू और अकबर ने मिलकर कृष्णा को आधे घंटे तक धूप में मुर्गा बनाया और इस दौरान उसकी डंडे से भी पिटाई की. टीचरों की बेरहम पिटाई, धूप और उमस के कारण कृष्णा की तबीयत बिगड़ गई. घर पहुंचने के बाद कृष्णा ने उल्टियां की. वहीं, उसके एक हाथ और पैर ने काम करना पूरी तरह से बंद कर दिया. पिता कोक सिंह ने बताया कि स्कूल के टीचरों ने 8 महीने पहले भी कृष्णा को बेरहमी से मारा था. उस वक्त भी वह टीचरों को आवेदन देकर समझाइश देकर आया था. रविवार को कृष्णा की मौत के बाद परिवार ने फोर्ट व्यू स्कूल का घेराव किया. घेराव और हंगामे की खबर लगते ही बहोड़ापुर पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने दोषियों पर सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया तब जाकर परिजनों ने घेराव खत्म किया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button